श्रद्धालुओं ने किया गंगा स्नान, पुलिस से व्यापारी हुए नाराज, सीजन से पहले बड़े आंदोलन की चेतावनी

-बैशाखी पर फसल तैयार हो जाती है और इस दिन से फसल कटनी शुरू हो जाती है

-बैशाखी पर गंगा स्नान और उसके बाद अन्न का दान करने का विशेष महत्व है

दैनिक समाचार, हरिद्वार, बैशाखी का पर्व धर्मनगरी हरिद्वार में पूरी श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया गया। हर की पैड़ी समेत विभिन्न गंगा घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ रही। देश भर से आये श्रद्धालुगण माँ गंगा में स्नान करके माँ गंगा से आराधना की कि उनका जीवन शांतिपूर्वक बीते और जिस तरह से ईश्वर द्वारा उनपर कृपा की गयी है वो आगे भी बनी रहे तथा धरती माँ इसी तरह से फसल प्रदान करती रहे। बैशाखी पर फसल तैयार हो जाती है और इस दिन से फसल कटनी शुरू हो जाती है। यह दिन सिख संप्रदाय में भी काफ़ी शुभ माना जाता है क्योंकि इसी दिन खालसा पंथ की स्थापना भी की गयी थी, यही बजह है कि यह त्यौहार पंजाबी समुदाय में खासी धूमधाम से मनाया जाता है। बैशाखी पर गंगा स्नान और उसके बाद अन्न का दान करने का विशेष महत्व है। स्नान का महत्व होने से हरिद्वार में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुचे और माँ गंगा का स्नान कर दान, भंडारा आदि किया और पितरों के निमित पूजा की। पुलिस प्रशासन द्वारा यात्रियों की सुरक्षा को लेकर भी कड़े इंतेजाम किये गए थे।

पंडित मनोज कुमार त्रिपाठी शास्त्री

क्या कहते हैं पंडित मनोज कुमार त्रिपाठी शास्त्री

पंडित मनोज कुमार त्रिपाठी शास्त्री ने बताया की आज गुरुवार को बहुत सुंदर मुहूर्त है वैशाख कि संक्रांति, जिससे हमारा पूरा शौर्य वर्ष चालू होता है। जैसे हम विक्रमी संवत मानते हैं ऐसे ही शौर्य वर्ष आज से ही शुरू होता है वैशाख कि संक्रांति से नव वर्ष सिख पंथ कि स्थापना 1699 में हुई थी वह भी आज ही के दिन हुई थी, आज ही के दिन सिखों का भी पवित्र दिन है। उनका भी नव वर्ष है यह वह पर्व है जिस दिन हमारी नई फसल आती है और हम अपने देवताओं को अर्पण करते हैं, उनके आशीर्वाद स्वरुप हमारे घर में सुख धन धान्य में वृद्धि होती है। आज के दिन विशेष तौर पर हरिद्वार पवित्र नगरी के अंदर स्नान का विशेष महत्व है और स्नान करने के पश्चात दान का महत्व है और दान में भी अन्न का, स्नान करने के बाद अपने पुरोहित को ब्राह्मण को आज के दिन अन्न का दान करने से व्यक्ति के जीवन में किसी भी प्रकार का कष्ट हो या किसी प्रकार की कमी हो उसको सब चीजों से मुक्ति मिलती है और जीवन में अन्न दान से बड़ा कोई दान नहीं है यह करने से जीवन में हर प्रकार के सुख में वृद्धि होती है। 

व्यापारी वर्ग सीजन से पहले बड़े आंदोलन का करेगा ऐलान शासन प्रशासन की होगी जिम्मेदारी

जिला उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के महामंत्री संजीव नैयर ने कहा कि इस समय व्यापारियों के कारोबार का समय है लेकिन पुलिस ने जगह-जगह बैरिकेडिंग लगा दिए हैं जिससे यात्री व पर्यटक बाजारों में नहीं पहुंच पा रहे हैं ऐसे में सीजन में भी बाजार खाली पड़े हैं और दुकानदार हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस को ऐसी व्यवस्था करनी चाहिए जिससे व्यवस्था भी बनी रहे और व्यापार भी चलता रहे। नैयर ने कहा कि इस को लेकर शीघ्र ही व्यापारियों का प्रतिनिधिमंडल एसएसपी से मिलेगा। हरिद्वार होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष आशुतोष शर्मा ने आरोप लगाया कि पुलिस व्यवस्था करने के बजाए यात्रियों को शहर में घुसने नहीं दे रही है जिससे यात्री शहर में पहुंची नहीं पा रहे हैं और धर्मनगरी में भीड़भाड़ के बावजूद शहर के होटल खाली पड़े हैं। युवा व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष संदीप शर्मा ने कहा कि 2 साल से व्यापारी वर्ग मन्दे की मार झेल रहा हैं बिजली पानी के बिल बच्चों की फीस सर पर खड़ी हैं प्रदेश सरकार की तरफ से किसी भी प्रकार की छूट या मदद व्यापारी को नहीं मिली है प्रशासन द्वारा भीड़ ना होने के बावजूद भी जिस प्रकार से रास्ते बंद कर दिए जाते हैं इसको लेकर व्यापारियों में रोष है। बेरिकेट होने के बावजूद ठेलिया हरकी पैड़ी तक पहुँच सकती है पर यात्री नही सोचनीय विषय है अगर यही स्थिति रहती है तो व्यापारी वर्ग सीजन से पहले बड़े आंदोलन का ऐलान करेगा जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। रोष व्यक्त करने वालों में राजन सेठ, राजीव पराशर, अरुण राघव, राजेश पुरी, राम अरोड़ा, राजन मेहता, विपिन शर्मा, राकेश खन्ना जसवंत थरेजा, आशुतोष वर्मा, राहुल शर्मा, सुरेंद्र जेन, अरुण अग्रवाल, गोपाल तलवार माधव बेदी, राजकुमार गुप्ता भोला रहे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!