सुचना आपके लिए : अगर आपका कोई वाहन थाने में खड़ा है तो तुरंत छुड़ा ले नही तो होगी गिरफ्तारी

-सीज हुए वाहन का निस्तारण नहीं करने पर 10 हजार का जुर्माना और छह माह के कारावास की सजा का प्रविधान है

-आपका वाहन एमवी एक्ट में सीज होने के बाद लंबे समय से थाने में खड़ा है, तो संभल जाइए

-जितना जल्दी हो सके न्यायिक प्रक्रिया के तहत आर्थिक दंड भुगतान कर अपने वाहन को छुड़ा ले

-9 व्यक्तियों के वारंट प्राप्त कर उनकी गिरफ्तारी की है

दैनिक समाचार, हरिद्वार 
आपका कोई वाहन एमवी एक्ट में सीज होने के बाद लंबे समय से थाने में खड़ा है, तो संभल जाइए। जितना जल्दी हो सके न्यायिक प्रक्रिया के तहत आर्थिक दंड भुगतान कर अपने वाहन को छुड़ा ले। कहीं ऐसा ना हो कि लापरवाही पर आप को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश होना पड़ जाए। खानपुर पुलिस ने इसकी शुरूआत की है। दरअसल, अधिकांश थाने चौकियों में कई सालों से अलग-अलग मामलों में सीज किए गए वाहन कबाड़ में तब्दील हो रहे हैं। इनमें मुकदमों से संबंधित और लावारिस वाहनों के अलावा एमवी एक्ट के तहत सीज किए गए वाहन भी शामिल हैं। कई बार एमवी एक्ट में आरोपित की गई जुर्माना राशि वाहन की वर्तमान कीमत से अधिक होती है। ऐसे में वाहन स्वामी अर्थदंड भुगतने के बजाय सीज किए वाहन को थाने-कोतवाली में ही छोड़ देते हैं। कबाड़ हो रहे ऐसे वाहन थानों में जगह घेर रहे हैं। इन वाहनों के निस्तारण की प्रक्रिया भी लंबी है। हरिद्वार जनपद की खानपुर थाना पुलिस ने इसका अलग समाधान निकाला है। खानपुर थानाध्यक्ष संजीव थपलियाल ने लंबे समय से एमवी एक्ट में सीज किए गए वाहनों का निस्तारण नहीं करने पर 9 व्यक्तियों के वारंट प्राप्त कर उनकी गिरफ्तारी की है। अमूमन ऐसा होता नहीं है कि एमवी एक्ट में सीज किए गए वाहन को नहीं छुड़ाने पर वाहन स्वामी को गिरफ्तार होकर कोर्ट में पेश होना पड़े। लेकिन एक्ट में इसका प्रविधान है। इसके तहत जानबूझकर सीज हुए वाहन का निस्तारण नहीं करने पर 10 हजार का जुर्माना और छह माह के कारावास की सजा का प्रविधान है। खानपुर थानाध्यक्ष संजीव थपलियाल ने बताया कि उच्चाधिकारियों की ओर से थाने में लंबे समय से खड़े इस प्रकार के वाहनों के निस्तारण के संबंध में निर्देश मिले. उसके बाद माननीय न्यायालय को अवगत कराया गया था. इसका संज्ञान लेते हुए न्यायालय ने ऐसे व्यक्तियों के विरूद्ध वारंट जारी किए गए थे, जिसके बाद पुलिस ने ऐसे 9 वारंटियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया है। सीज वाहन नहीं छुड़ाने पर खानपुर पुलिस की कार्रवाई के बाद उन वाहन स्वामियों में हड़कंप मच गया है, जिनके वाहन ऐसे मामलों में लंबे समय से थाने कोतवाली में खड़े हैं। अन्य थाना कोतवाली पुलिस भी इस प्रकार की कार्रवाई कर सकती हैं। 9 व्यक्तियों की गिरफ्तारी के बाद अब ऐसे वाहन स्वामी थाने पहुंचकर वाहनों के निस्तारण के संबंध में जानकारी ले रहे हैं। न केवल खानपुर बल्कि जनपद के दूसरे थानों और कोतवाली में भी लोग पहुंचकर वाहनों को छुड़ाने की प्रक्रिया की जानकारी ले रहे हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!