देहरादून में तनाव, प्रदर्शनकारी कचहरी में घुसे, चप्पे-चप्पे पर पुलिस, गिरफ्तार 13 प्रदर्शनकारियों को कोर्ट में पेश करेगी पुलिस, शिक्षित बेरोजगार कचहरी के बाहर

पुलिस के खिलाफ गुस्सा, कई जगहों पर बेरोजगारों का प्रदर्शन, शिक्षित बेरोजगारों को समर्थन देने कई संगठनों के लोग पहुंचे

गिरफ्तार 13 प्रदर्शनकारियों को छोड़ने की मांग, डीजपी की अहम बैठक, सरकार की भी है हर पल नजर, गुरुवार को फेल हुई खुफिया आज सक्रिय

दैनिक समाचार, देहरादून: देहरादून में शिक्षित बेरोजगारों पर पुलिस की ओर से लाठीचार्ज के विरोध में बेरोजगार संघ के शुक्रवार को उत्तराखंड को लेकर प्रदेश के कई शहरों में असर दिखाई दे रहा है। देहरादून में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। आक्रोशित छात्र देहरादून जिलाधिकारी कार्यालय में घुस गए। जिससे माहौल अचानक तनावपूर्ण हो गया। जिलाधिकारी सोनिका ने प्रदर्शनकारी छात्रों को समझाने की कोशिश की लेकिन उन्होंने उनकी एक नहीं सुनी। फिलहाल शिक्षित बेरोजगारों की नारेबाजी जारी है।दूसरे शहरों में भी जहां प्रदर्शन हो रहे हैं वहां भी प्रशासन और पुलिस अलर्ट मोड में है। हालांकि प्रदर्शनकारियों को रोकने को लेकर देहरादून में प्रशासन की ओर से बीते शाम को आदेश जारी करके शहर में 144 लागू कर दी है।
शुक्रवार को देहरादून के घंटाघर क्षेत्र में दुकानें व प्रतिष्‍ठान बंंद रखे गए। जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया है। कचहरी स्थित शहीद स्मारक पर पहुंचे छात्र करने लगे प्रदर्शन उपद्रव और पत्थरबाजी के आरोप में गिरफ्तार बेरोजगारों को पुलिस कोर्ट में आज पेश करेगी। इसे लेकर कचहरी के आसपास तनाव का माहौल बना हुआ है। उपद्रव मचाने व पत्थरबाजी करने के मामले में गिरफ्तार किए गए बेरोजगार संघ के अध्यक्ष सहित 13 की शुक्रवार को कोर्ट में पेशी होनी है। कोर्ट के बाहर स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। छात्र बॉबी पवार को रिहा करने की मांग कर रहे हैं। इस दौरान प्रदर्शन कर रहे छात्रों को समर्थन देने के लिए विभिन्न संगठन भी पहुंचे।

डीजपी ने बुलाई बैठक, गुरुवार की घटना को लेकर मंथन
गुरुवार को गांधी पार्क के बाहर हुई घटना को लेकर डीजीपी ने बैठक बुलाई है। बैठक में यह जानने की कोशिश की जा रही है कि किस स्तर पर चूक हुई है। लापरवाह अधिकारियों व कर्मचारियों पर गाज गिर सकती है।

उत्‍तरकाशी में दुकानें बंद करवाने को लेकर हंगामा
उत्तरकाशी में बेरोजगार छात्रों ने धरना-प्रदर्शन किया। व्यापारियों के समर्थन से उत्तरकाशी बाजार बंद कराया गया। इस दौरान कुछ दुकानों को बंद कराने को लेकर छात्रों का जमकर हंगामा हुआ।

चमोली और अल्मोड़ा में भी युवाओं ने प्रदर्शन किया
पौड़ी में अन्य दिनों की तरह बाजार खुले रहे, हालांकि सुरक्षा के लिए पुलिस कर्मी तैनात किए गए। बेरोजगार युवाओं पर पुलिस की लाठीचार्ज का अल्मोड़ा में भी विरोध शुरू हो गया। इस दौरान युवाओं ने भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच की मांग की। भूख हड़ताल में बैठने की चेतावनी दी।

हल्द्वानी में प्रदर्शनकारियों ने किया सांकेतिक पिंडदान
उत्तराखंड युवा एकता मंच के आह्वान पर बेरोजगार युवा भर्ती घोटाला और बेरोजगारों से देहरादून में हुई बर्बरता को लेकर सड़कों पर हैं। हल्द्वानी में रानीबाग स्थित चित्रशिला घाट में उत्तराखंड लोक सेवा आयोग, पुलिस व राज्य सरकार की सांकेतिक शवयात्रा निकालने के बाद युवाओं ने अंत्येष्टि और पिंडदान किया।

इस वजह से गुरुवार को भड़के बेरोजगार
बेरोजगार युवाओं ने अपनी मांगें मनवाने के लिए बुधवार को गांधी पार्क के बाहर सत्याग्रह शुरू किया था। यहां से देर रात पुलिस ने उन्हें उठा दिया। इससे गुस्साए युवा गुरुवार सुबह गांधी पार्क में जुटने लगे। इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हो गई।

ये हैं प्रमुख मांगें
भर्ती परीक्षाओं में हुए घोटालों की सीबीआइ जांच कराई जाए।
तत्काल सख्त नकलरोधी कानून लागू किया जाए।
नकल करके नौकरी पाने वालों की सूची सार्वजनिक की जाए।
भर्ती घोटालों की जांच पूरी होने और नकलरोधी कानून लागू होने के बाद ही भर्ती परीक्षाएं कराई जाएं

Dainik Samachaar

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!