हरिद्वार जनपद के लक्सर में सेना संभालेगी हालात, आईटीबीपी की टीमें भी रवाना

सीएम धामी के निरीक्षण के बाद लिया प्रशासन ने अहम निर्णय
बीईजी रूड़की को जिलाधिकारी ने लिखा सहयोग के लिए पत्र
एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की अतिरिक्त टीमें पहुंचेंगी हरिद्वार

BY NAVEEN PANDEY

दैनिक समाचार, हरिद्वार:हरिद्वार जनपद के लक्सर तहसील में बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के बाद जिला प्रशासन और तेजी से एक्शन मोड में आ गया है। लक्सर तहसील और रूड़की के कुछ क्षेत्रों में बाढ़ के हालात से निपटने को लेकर सेना को उतारने की तैयारी है। सेना की बीईजी रूड़की और आईटीबीपी जल्द ही क्षेत्र में रेस्क्यू और राहत और बचाव कार्य का मोर्चा संभाल लेंगे। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की अतिरिक्त टीमें भी हरिद्वार जनपद के प्रभावित क्षेत्रों के लिए रवाना कर दी गई हैं।
जिलाधिकारी धीरज सिंह गर्ब्याल ने बताया कि राहत बचाव कार्यों के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की 02-02 टीम को तहसील लक्सर व रूड़की में तैनात किया गया है। एनडीआरएफ की 02 और एसडीआरएफ की 03 अतिरिक्त टीमें हरिद्वार के लिए रवाना हो गई हैं। प्रभावित क्षेत्रों में रेस्क्यू और राहत और बचाव कार्य के लिए सेना के बीईजी रूड़की को पत्र भेजा गया है। राज्य सरकार की ओर से जिला प्रशासन को मदद के लिए आईटीबीपी की टीम को भेजा जा रहा है। डीएम ने बताया कि प्रभावित विभिन्न स्थानों पर 37 पम्प सेट स्थापित कर जल की निकासी की जा रही है। इसके अतिरिक्त जिला प्रशासन द्वारा आवश्यकता के मद्देनजर अतिरिक्त 04 पम्पसेट क्रय कर तहसील रूड़की में जल निकासी के लिए उपलब्ध कराया गया है तथा तहसील लक्सर में राहत-बचाव के लिए 01 अतिरिक्त राफ्ट क्रय कर उपलब्ध कराया गया है। जिला प्रशासन की ओर से तिरपाल और मेडिकल किट का पूरा इंतजाम किया गया है। राहत-बचाव कार्यों में लगे कार्मिकों की सुरक्षा को लेकर भी जिला प्रशासन पूरी तरह से तत्पर है।

24 घंटे में जनपद में 220 मिमी रिकार्ड बारिश
हरिद्वार जनपद में बारिश ने रिकार्ड तोड़ दिया है। भारतीय मौसम विभाग देहरादून के मुताबिक 12-13 जुलाई को जनपद हरिद्वार के लगभग सभी क्षेत्रों में बारिश हुई। मौसम विभाग के आंकलन के अनुसार पिछले 24 घंटे में तहसील हरिद्वार में 220 मिमी, तहसील रुड़की में 300 मिमी, तहसील लक्सर में 220 मिमी तहसील भगवानपुर में 98 मिमी व जिला मुख्यालय रोशनाबाद में 166 मिमी वर्षा दर्ज की गयी है। इस प्रकार पिछले 24 घंटे में जनपद में 200 मिमी वर्षा हुई है।

लक्सर में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण करते मुख्यमंत्री  धामी।

एडीएम ने किया जिला आपातकालीन परिचालन केन्द्र का निरीक्षण
जनपद में हो रही भारी वर्षा के कारण जिलाधिकारी एवं अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) ने जिला आपातकालीन परिचालन केन्द्र/आपदा कंट्रोल रूम का औचक निरीक्षण किया। आपदा कंट्रोल रूम में प्राप्त होने वाली समस्त सूचनाओं को सम्बन्धित विभागों को तत्काल अग्रसारित करने तथा समस्या का निराकरण करने के निर्देश दिये।

प्रभावित परिवारों को दी गई राशि
अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) बीर सिंह बुदियाल ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से अभी तक 148 परिवारों को धनराशि 4.33 लाख रूपये, 145 परिवारों को गृह अनुदान धनराशि 14.97 लाख रूपये, 01 घायल व्यक्ति को धनराशि 0.16 लाख रूपये, 02 पशु हानि पर धनराशि 0.75 लाख रूपये, 05 पशुबाड़ा क्षति पर धनराशि 0.15 लाख रूपये तथा इस प्रकार कुल धनराशि 20.36 लाख रूपये की धनराशि वितरित की गयी है।

तहसीलवार राजस्व टीम कर रही नुकसान का आंकलनएडीएम एफआर ने बताया कि तहसील रूड़की में दीवार गिरने से एक बालक की मृत्यु की सूचना पर राजस्व विभाग की ओर से प्रभावित परिवार को राहत राशि वितरित किये जाने की कार्यवाही की जा रही है। इसके अतिरिक्त तहसील वार राजस्व टीम क्षति का आंकलन कर प्रभावितों को राहत राशि वितरण किये जाने की कार्यवाही कर रही है। जिला प्रशासन की ओर से प्रभावित परिवारों के लिए 2500 फूड पैकेट तैयार किये गये हैं।

Dainik Samachaar

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!