तो क्या हरिद्वार से इस बार व्यापारी भी लड़ेंगे चुनाव, व्यापारियों को सुनील सेठी से आस कैसे होंगे पास

-व्यापारी बोले व्यापार नीति आयोग गठन को मेनोफेस्टो में शामिल करें सभी राजनीतिक दल

-नहीं किया तो व्यापारी 2022 चुनाव में उतारेंगे प्रत्याशी-कोई भी सरकार व्यापारी की मदद नही करती इसलिए अब व्यापार नीति आयोग का गठन होना चाहिए

दैनिक समाचार, हरिद्वार

सुनील सेठी, संजीव चौधरी, मृदुल कौशिक ने संयुक्त रूप से की प्रेस वार्ता करते हुए कहा की व्यापार नीति आयोग गठन को मेनोफेस्टो में शामिल करें सभी राजनीतिक दल नहीं किया तो व्यापारी 2022 चुनाव में उतारेंगे प्रत्याशी। आज प्रेस क्लब हरिद्वार में प्रेस वार्ता करते हुए महानगर व्यापार मण्डल जिलाध्यक्ष सुनील सेठी, प्रदेश व्यापार मंडल अध्यक्ष संजीव चौधरी और तहसील अध्यक्ष मृदुल कौशिक ने संयुक्त रूप से कहा कि आपदा कि हर परिस्थिति में व्यापारी नुकसान झेलता है सबसे ज्यादा टेक्स व्यापारी देता है, चुनाव में चंदा व्यापारी देता है, सरकार बनाने में अहम भूमिका व्यापारी निभाता है लेकिन फिर भी कोई भी सरकार व्यापारी की मदद नही करती इसलिए अब व्यापार नीति आयोग का गठन होना चाहिए जिससे आपदा में व्यापारी को प्रतिमाह वेतन देने की इंसोरेश देने की संतुति होनी चाहिए। जिससे वो अपने घर का लालन पालन कर सके।

सुनील सेठी

सुनील सेठी ने कहा कि जिस प्रकार लोकडाउन में व्यापारियों ने मुश्किलें झेली वो किसी से नही छुपी लेकिन कोई सरकार मदद को नही आई अब अगर सरकारें व्यापारी के प्रति उदासीन रवैया अपनायेगी तो व्यापारी स्वयं प्रतिनधित्व करते हुए विधानसभा, संसद में व्यापारी भेजेगा अपना प्रत्याशी आगामी चुनाव में उतारेगा। हाल ही में मकर संक्रांति स्नान प्रतिबंधित होने से व्यापारियों पर फिर संकट के बादल मंडराने लगे है।

संजीव चौधरी

संजीव चौधरी ने कहा कि व्यापारियों पर दर्ज मुकदमे वापिस होने चाहिए, व्यापारियों के लिए अगर सरकारें नही सोचेगी तो चुनाव में इसका जवाब व्यापारी देने के लिए तैयाए है, आगामी चुनाव मे राजनीतिक दल या तो व्यापारियों को भी प्रत्याशी बनाये अन्यथा विरोध झेलने के लिए तैयार रहे।

मृदुल कौशिक

मृदुल कौशिक ने कहा कि व्यापारी हर प्रकार से हताश है लोकडाउन से अभी तक व्यापारी उभर नही पाया और अब नया संकट फिर उभर कर आ रहा है सरकारों ने तब भी व्यापारी की कोई सुध नही ली और अब भी सरकारों से कोई राहत की उम्मीद नही इसलिए अब जल्द अन्य व्यापारि साथियों के साथ बैठक बुलाकर कोई ठोस निर्णय लिया जाएगा।

प्रेस वार्ता में मुख्य रूप से दीपक सोलंकी, नाथीराम सैनी सुमित अरोड़ा, जितेंद्र चौरसिया, मयंक भट्ट, नावेद अंसारी उपस्तिथ रहे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!