हरीश ने छेड़ी फिर तान, ‘सीएम बनूंगा या फिर घर बैठूंगा’

लालकुंआ में हरीश रावत ने कही अपने दिल की बात
जनादेश मिला तो सीएम बनने की जताई पूरी इच्छा
बयान से पहले भी आलाकमान को कर चुके हैं असहज
दैनिक समाचार, देहरादून:
मतदान के अगले ही दिन अचानक पूर्व सीएम हरीश रावत ने फिर मुख्यमंत्री को लेकर राग छेड़ दिया है। साफ कहा, कांग्रेस की सरकार आ रही है और या तो मुख्यमंत्री बनूंगा या फिर घर बैठूंगा। ‘हरदा’ के बयान ने फिर उत्तराखंड की राजनीति में हलचल मचा दी है।
उत्तराखंड में चुनाव समिति के हरीश रावत को अध्यक्ष बनाया गया था। हरीश रावत कई बार अपने बयान और अपने कदम से आलाकमान को असहज कर चुके हैं। अब मतदान के बाद एक बार फिर से हरदा ने पुराना राग छेड़ दिया है। लालकुंआ में हरदा ने कहा कि जनता का जनादेश मिलेगा तो वह सेवा को तत्पर हैं।
जब पूछा गया कि जनादेश मिला तो कौन मुख्यमंत्री बनेगा। हरीश रावत ने अपने अंदाज में कहा कि ‘हरीश रावत या तो मुख्यमंत्री बन सकता है या फिर घर पर बैठ सकता है।’ इसके अलावा मेरे पास तीसरा कोई विकल्प नहीं रह गया है। मैं अपनी सोच का उत्तराखंड बनाऊंगा। बता दें कि विधानसभा चुनाव की घोषणा से ठीक पहले 22 दिसंबर को हरीश रावत ने बड़ा धमाका किया था। इंटरनेट मीडिया में पोस्ट कर अपनी ही पार्टी को निशाने पर लेते हुए संकेतों में धमकी दे डाली कि इसी तरह का रुख रहा तो वह राजनीति से संन्यास भी ले सकते हैं। उधर, रावत के मीडिया सलाहकार व प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष सुरेंद्र अग्रवाल ने पार्टी के प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव को भाजपा का एजेंट कहकर आग में और घी डाल दिया थ
Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!