माघ पूर्णिमा पर श्रद्धालुओं ने लगाई पावन डुबकी, देखें पावन डुबकी की हरकी पैडी की तस्वीरें

राज्यों से पहुंचे बड़ी तादाद में श्रद्धालु, दान-पुण्य किया
सुबह से ही ब्रहृमकुंड पर जुटने लगी थी आस्था की भीड़
मान्यता है आज के दिन धरती पर आते हैं देवी-देवता

दैनिक समाचार, हरिद्वार:
माघ पूर्णिमा के अवसर पर बुधवार को श्रद्धालुओं ने गंगा घाटों पर आस्था की डुबकी लगाई। ब्रह्म मुहुर्त में ब्रहृमकुंड पर बड़ी तादाद में श्रद्धालु डुबकी लगाने पहुंच गए थे। श्रद्धालुओं की भीड़ की वजह से व्यापारियों के चेहरे खिले रहे।
हरकी पैड़ी समेत अन्य गंगा घाटों पर श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान किया और ब्राह्मणों को दान-पुण्य किया। माघ पूर्णिमा पर स्नान और दान का बेहद महत्व होता है। राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं ने पावन डुबकी लगाने के बाद दान-पुण्य किया।

भारतीय प्राच्य विद्या सोसाइटी के प्रतीक मिश्रपुरी ने बताया कि धार्मिक मान्यता है कि पूर्णिमा के दिन देवी-देवता धरती पर आते हैं। ऐसे में इस दिन पूजा-पाठ करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है। हर माह की पूर्णिमा का अपना अलग-अलग महत्व होता है। ऐसे में इस माह माघ में पड़ने वाली पूर्णिमा को माघी पूर्णिमा या माघ पूर्णिमा कहा जाता है।

क्या है माघ पूर्णिमा का महत्व
इस दिन चांद अपनी पूर्ण अवस्था में होता है। यह मान्यता है कि लोगों की हर कामनाएं पूरी होती हैं। इस दिन पूजा और व्रत का शुरू से ही महत्व रहा है। धार्मिक मान्यता है कि पूर्णिमा के दिन देवी-देवता धरती पर आते हैं। ऐसे में इस दिन पूजा-पाठ करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है। हर माह की पूर्णिमा का अपना अलग-अलग महत्व होता है। ऐसे में इस माह माघ में पड़ने वाली पूर्णिमा को माघी पूर्णिमा या माघ पूर्णिमा कहा जाता है।

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!