उत्तराखंड में नाइट कर्फ्यू खत्म, काफी राहतें, कुछ पर अब भी पाबंदियां, बार्डर पर सख्ती नहीं, जिलों में जिला प्रशासन लेगा निर्णय

शासन ने जारी किया कोरोना की नई गाइड लाइन
होटल, रेस्टोरेंट, के संचालन को मिली अनुमति
बसों में आवागमन के दौरान मास्क अब भी जरूरी
दैनिक समाचार, देहरादून:
सूबे में नाइट कर्फ्यू खत्म कर दिया गया है। राज्य में एक मार्च से आंगनबाड़ी केंद्रों को खोले जाने का निर्णय लिया है। हालांकि कुछ प्रतिबंध अभी भी जारी रहेंगे। जिसमें राजनीतिक रैली, धरना-प्रदर्शन को 28 फरवरी तक प्रतिबंधित रखा गया है। कोरोना संक्रमण के मामलों में आई कमी को देखते हुए उत्तराखंड में नाइट कर्फ्यू खत्म कर दिया गया। शासन की ओर से जारी एसओपी के अनुसार कुछ रियायतें दी गई है, लेकिन साथ ही कुछ पर प्रतिबंध अभी भी जारी रहेगा। वहीं, उत्तराखंड के बार्डर पर अब कोरोना की कोई चेकिंग नहीं होगी हालांकि जिला प्रशासन पर वहां की स्थिति के अनुसार निर्णय लेने के निर्देश दिए गए हैं।

एक नजर में छूट और प्रतिबंध को जानिए
राजनीतिक रैली, धरना-प्रदर्शन को 28 फरवरी तक अनुमति नहीं।
होटल, रेस्टोरेंट, भोजनालय और ढाबों को अपनी क्षमता एवं कोरोना प्रोटोकॉल के तहत संचालन की अनुमति।
राज्य में स्वीमिंग पूल और वाटर पार्क 28 फरवरी तक रहेंगे बंद।
राज्य में खेल संस्थान, स्टेडियम और खेल के मैदान खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के लिए पूरी क्षमता के साथ खोले जाएंगे।
कार्यस्थल और सार्वजनिक परिवहन में यात्रा करने वालों को करना होगा मास्क का इस्तेमाल। सार्वजिनक स्थानों पर छह फिट की दूरी।
सार्वजनिक स्थानों में थूकना, गुटखा, तंबाकू आदि का सेवन प्रतिबंधित।
जिम, शापिंग मॉल, सिनेमा हाल, स्पा, सैलून, थियेटर, आडिटोरियम और सभा कक्ष आदि व इनससे संबंधित गतिविधयां कोरोना गाइडलाइन के तहत पूरी क्षमता के साथ खुलेंगे।
सभी सामाजिक, खेल, मनोरंजन, विवाह समारोह, सांस्कृतिक समारोह गतिविधियों में आयोजन स्थल की पूरी क्षमता के साथ व्यक्तियों के शामिल होने की अनुमति। कोविड गाइडलाइन का करना होगा पालन।
राज्य के सभी आंगनबाड़ी केंद्र एक मार्च से खुलेंगे।
परीक्षाओं के संचालन की अनुमति होगी।
सार्वजनिक स्थल, पर्यटक स्थल, बाजार, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, मंडी समेत अन्य भीड़भाड़ वाली जगहों पर कोविड गाइडलाइन का पालन करना होगा। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजेशन का ध्यान रखना जरूरी।

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!