राजाजी में हाथियों के बीच घंटों संघर्ष, टस्कर को मौत के घाट उतारा, दूसरी ओर गुलदार की संदिग्ध मौत

राजाजी के मोतीचूर रेंज अंतर्गत सत्यनारायण में मिला टस्कर का बेहद जख्मी शव
घटनास्थल पर खून के निशान बताते हैं घंटों चला होगा दोनों के बीच संघर्ष
हाथियों के संघर्ष में दूसरा भी घायल, राजाजी की टीम चला रही है सर्च आपरेशन

दैनिक समाचार, हरिद्वार: राजाजी टाइगर रिजर्व की मोतीचूर रेंज में हाथियों के बीच संघर्ष में एक टस्कर की मौत हो गई। सूचना के बाद राजाजी टाइगर रिजर्व की टीम मौके पर पहुंची। घटनास्थल पर खून और मृत हाथी के शरीर पर कई गहरे घाव ये बताने को काफी है कि हाथियों के बीच घंटों संघर्ष हुआ होगा। फिलहाल राजाजी की टीम दूसरे घायल हाथी की तलाश कर रहा है। चूंकि जब हाथियों के बीच संघर्ष होता है तो निश्चित तौर पर दूसरा भी घायल होता है।

मृत हाथी के पोस्टमार्टम के लिए चिकित्सकों की टीम को बुलाया गया है। वहीं, जनपद के कलियर क्षेत्र अंतर्गत मेहवड़ में श्मशान घाट के पास सड़क किनारे एक मादा गुलदार का शव बरामद हुआ। शव करीब पांच दिन पुराना लग रहा है। वन विभाग की टीम ने शव को कब्जे में लिया है। चिकित्सकों की पांच सदस्यीय टीम गुलदार के शव का पोस्टमार्टम करेगी।

गुरुवार को वन विभाग की टीम को सूचना मिली कि मेहवड़ पुल के पास एक श्मशान घाट के निकट सड़क किनारे एक गुलदार का शव पड़ा है। सूचना मिलने पर रुड़की वन विभाग के रेंजर मयंक गर्ग टीम के साथ मौके पर पहुंचे। वन विभाग की टीम ने शव का निरीक्षण किया तो पता चला कि शव मादा गुलदार का है। रेंजर मयंक ने बताया कि ऐसा लग रहा है कि किसी हादसे में गुलदार की मौत हुई है। मामले की सही जानकारी पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद होगी। उन्होंने बताया कि चिकित्सकों की पांच सदस्यीय टीम गुलदार के शव का पोस्टमार्टम करेगी।

Dainik Samachaar

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!