थमा नहीं बीजेपी में भितरघात की ‘रार, अब यमुनोत्री के बीजेपी प्रत्याशी ने लगाया आरोप, बोले भितरघात किया गया, कुमाऊं और गढ़वाल दोनों जगह से उठी आवाज

लक्सर विधायक, काशीपुर विधायक और चंपावत विधायक लगा चुके हैं भितरघात के आरोप
अब यमुनोत्री से बीजेपी के प्रत्याशी ने भितरघात का जड़ा आरोप, बीजेपी ​हुई बेहद असहज
केन्द्रीय नेतृत्व ने मांगी पूरी रिपोर्ट, प्रदेश बीजेपी ने मीडिया में बयान नहीं देने की दी हिदायत

दैनिक समाचार, देहरादून: बीजेपी में भितरघात का मुदृदा थमता नहीं दिख रहा है। हरिद्वार जनपद के लक्सर विधायक, काशीपुर विधायक, चंपावत विधायक के बाद अब यमुनोत्री से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी ने भितरघात का आरोप लगाया है। भितरघात से असहज प्रदेश बीजेपी ने विधायकों सहित प्रत्याशियों को मीडिया में बयान नहीं देने की हिदायत दी है। हालांकि पूरे मामले में केन्द्रीय नेतृत्व ने पूरी रिपोर्ट तलब की है।


हरिद्वार जनपद के लक्सर विधायक संजय गुप्ता ने प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक पर सीधे तौर पर चुनाव हराने के लिए बसपा का समर्थन करने का आरोप लगाया और वीडियो वायरल किया। उन्होंने तो प्रदेश अध्यक्ष की संपत्ति की जांच और पार्टी से निष्कासित करने की मांग तक कर दी। संजय गुप्ता के बाद काशीपुर से विधायक हरभजन सिंह चीमा ने भी भितरघात की बात उठाई और फिर चंपावत से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़े विधायक कैलाश गहतोड़ी ने भी भितरघात होने की बात कही। अब यमुनोत्री से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले केदार सिंह रावत ने भितरघात का मुदृदा उठाकर बीजेपी को फिर असहज कर दिया है। श्री रावत ने कहा कि उन्हें हराने के लिए भितरघात किया गया है और दूसरे दलों को समर्थन दिया गया है। यह बहुत गंभीर मामला है। मामले में भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में भितरघात की शिकायतों से उठे विवाद पर प्रदेश संगठन से रिपोर्ट तलब की है। प्रदेश महामंत्री संगठन कुलदीप से इस संबंध में पूरा ब्योरा मांगा गया है।

Dainik Samachaar

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!