आखिर दिल्ली से लौटकर सीएम धामी क्यों पहुंचे सीधे पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र के घर, सियासी गलियारे में मुलाकात के निकाले जा रहे सियासी मायने

दिल्ली से लौटे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सीधे पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के आवास
त्रिवेन्द्र को शॉल ओढ़ाकर किया सम्मान, दोनों ने अपने टविटर हैंडल पर शेयर की हैं तस्वीरें
सियासत के जानकार तलाशने लगे हैं मुलाकात के मायने, बेवजह नहीं है ये मुलाकात

दैनिक समाचार, देहरादून: दिल्ली से लौटकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के घर पर जाकर मुलाकात की। दिलचस्प यह है कि सीएम धामी और पूर्व सीएम रावत ने अपने ट्विटर हैंडल पर मुलाकात की तस्वीरें भी पोस्ट कर दी। देहरादून सहित उत्तराखंड के ‘मौसमी तापमान’ भले ही ठंडा हो लेकिन दोनों की मुलाकात ने ‘सियासी पारे’ को चढ़ा दिया है। सियासी गलियारे के सियासी पंडित कई मायने तलाशने लगे हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी करीब चार दिन से दिल्ली में थे। दिल्ली में बीजेपी के शीर्ष नेताओं से मुलाकात के बाद वे सीधे रविवार शाम को साढ़े पांच बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे और सड़क मार्ग से सीधे पहले डिफेंस कालोनी स्थित पूर्व सीएम त्रिवेंद्र के आवास पर पहुंचे। पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया तो मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शॉल ओढ़ाकर सम्मान दिया। मुलाकात के दौरान ट्विटर हैंडल पर दोनों ने तस्वीरें पोस्ट करके इसे शिष्टाचार मुलाकात बताई है लेकिन सियासत के पंड़ितों के बीच बेचैनी शुरू हो गई है।

सियासत के जानकारों का साफ कहना है कि ये मुलाकात यूं ही नहीं है। इसके गहरे मायने है। जो निकट भविष्य में प्रदेश की राजनीति में दिखाई देगी। चूंकि उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव 2022 के लिए 14 फरवरी की वोटिंग के बाद 10 मार्च को मतगणना के साथ ही सरकार की तस्वीर साफ हो जाएगी। उत्तराखंड का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, भाजपा-कांग्रेस में कई समीकरण सामने आ रहे हैं। यहां ये बताना जरूरी है कि मुख्यमंत्री बनने के बाद धामी दूसरी बार पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह राव के आवास पर पहुंचे हैं। धामी दिल्ली रवाना होने से पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक से मुलाकात कर चुके हैं।

Dainik Samachaar

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!