आचार संहिता के बीच कैसे जिलाधिकारी ने जारी किया त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की अधिसूचना, कांग्रेस ने उठाया सवाल, मुख्य निर्वाचन अधिकारी से शिकायत

प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने सौंपा ज्ञापन
हरीश रावत ने भी जताई मामले में हैरानी

दैनिक समाचार, हरिद्वार: कांग्रेस ने हरिद्वार जिले के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आरक्षण और परिसीमन को लेकर जिलाधिकारी की ओर से अधिसूचना जारी करने पर आपत्ति जताई है। प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के नेतृत्व में कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल सोमवार को इस संबंध में मुख्य निर्वाचन अधिकारी से मुलाकात किया। वहीं, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि अगली सरकार का गठन होने तक नीतिगत निर्णय नहीं लिया जाना चाहिए।


पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि राज्य में आदर्श आचार संहिता लगी है। ऐसे में आरक्षण को लेकर अधिसूचना जारी करने से हरिद्वार जिले में अफरा-तफरी का माहौल है। उन्होंने और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष, दोनों ने ही इस मुद्दे पर हरिद्वार जिले में कांग्रेस प्रत्याशियों काजी निजामुद्दीन, ममता राकेश, फुरकान अहमद और सतपाल ब्रह्मचारी से सलाह की। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि ऐसे नीतिगत निर्णय लेने का अधिकार सिर्फ 10 मार्च को चुनाव परिणाम के बाद बनने वाली नवगठित सरकार के पास ही निहित होने चाहिए। वर्तमान सरकार को ऐसे निर्णय से बचना चाहिए। इस मामले में सोमवार को कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल मुख्य निर्वाचन अधिकारी को विरोध स्वरूप ज्ञापन सौंपा।

Dainik Samachaar

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!