महिला के बिना सशक्त समाज की कल्पना भी नहीं की जा सकती : हिना शर्मा

-हिना शर्मा ने कहा कि धर्म शास्त्रों में नारी की महिमा करते हुए पूज्यनीया बताया गया है

बेटियों व महिलाओं के प्रति बढ़ रही आपराधिक मानसिकता सभी के लिए चिंता का विषय

दैनिक समाचार, हरिद्वार

हिना शर्मा

वरिष्ठ समाजसेविका हिना शर्मा ने धूमधाम से अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया। महिला दिवस की बधाई देते हुए हिना शर्मा ने कहा कि एक महिला तमाम रिश्तों को एक माला में पिरो कर रखती है। महिलाओं का योगदान किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से कहीं ज्यादा होता है। महिला घर संभालने के साथ कार्यस्थल पर अपनी जिम्मेदारियों को भी बखूबी निभाती है। हिना शर्मा ने कहा कि धर्म शास्त्रों में नारी की महिमा करते हुए पूज्यनीया बताया गया है। शास्त्रों में कहा गया है कि जहां नारी का सम्मान होता है। वहां देवता निवास करते हैं। इसलिए सभी को महिलाओं का सम्मान करने के साथ उन्हें जीवन में आगे बढ़ने के लिए पर्याप्त अवसर उपलब्ध कराने चाहिए। हिना शर्मा ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि महिला शक्ति राष्ट्र शक्ति है। महिला घर, परिवार व समाज का मार्गदर्शन करते हुए प्रेरक की भूमिका निभाती है। स्त्री नई पीढ़ी को जन्म देती है। महिला के बिना सशक्त समाज की कल्पना भी नहीं की जा सकती। लेकिन आज बेटियों व महिलाओं के प्रति बढ़ रही आपराधिक मानसिकता सभी के लिए चिंता का विषय है। सभी को बेटियों व महिलाओं को अत्याचार से बचाने के लिए संगठित होकर आवाज उठानी चाहिए। बेटियां पढ़ें और आगे बढ़ें इसके लिए बेटियों को भी बेटों के समान शिक्षा के अवसर मिलने चाहिए।

Leave a Comment

error: Content is protected !!