रेलवे ने बहाल की ये सुविधा, दिल हो जाएगा खुश

रेल मंत्रालय ने कोरोना कॉल से एसी कोच में बंद कंबल, बेड रोल की व्यवस्था बहाल की
होली से पहले रेल यात्रियों को सफर के दौरान रेलवे की ओर से मिली बड़ी राहत
रेल मंत्रालय ने दस मार्च को आदेश जारी करके इसे तत्काल लागू क
रने को कहा

नवीन पाण्डेय, नई दिल्ली/देहरादून: कोरोना कॉल के बाद रेलवे से सफर करने वाले रेल यात्रियों को बड़ी सहूलियत मिलने जा रही है। रेलवे करीब दो साल से अधिक समय से वातानुकूलित कोचों में मिलने वाले कंबल और बेड रोल को तत्काल प्रभाव से बहाल कर दिया गया है। रेल मंत्रालय की ओर से ये आदेश जारी किया गया है।


कोरोना कॉल के दौरान करीब दो सालों से रेलगाड़ियों के संचालन पर असर पड़ा था। धीरे-धीरे स्थितियां अनुकूल होती गई और रेलवे ने उसी अनुसार यात्री सुविधा बहाल करना शुरू कर दिया। रेलवे ने पहली बार कोरोना कॉल के दौरान अनारक्षित श्रेणी तक के लिए ​जितनी सीट उतनी ही टिकट यात्री को सफर करने की अनुमति दी थी पर जब कोरोना की स्थिति काफी भयावह हो गई तो रेल का पहिया भी महीनों तक यात्रियों की सुविधा के लिहाज से थमा रहा। अब देश में वैक्सीनेशन के जरिए कोरोना को काफी हद तक नियंत्रित करने और धीरे-धीरे सभी चीजों के पटरी पर लौटने के बाद, रेलवे ने भी अपनी सुविधाओं को तेजी से बहाल करना शुरू कर दिया है।

पिछले दिनों ही रेलवे ने अनारक्षित टिकट के लिए सीट बुकिंग की अनिर्वायता खत्म कर दी। रेलगाड़ियों का संचालन शुरू हो गया है। होली पर स्पेशल रेलगाड़ियों का संचालन शुरू कर दिया गया है ताकि यात्रियों को परेशानी नहीं हो। इसी बीच, रेल मंत्रालय ने होली से पहले ही रेलयात्रियों को बड़ी राहत देते हुए वातानुकूलित बोगियों में कंबल और बेड रोल देने की व्यवस्था को फिर से बहाल कर दिया है। रेलवे कोच के लगने वाले पर्दे भी पहले की भांति लगाए जाएंगे। रेल मंत्रालय की ओर से इस आशय का आदेश जारी कर इसे तत्काल प्रभाव से लागू करने को कहा गया है। जाहिर है अब वातानुकूलित कोच में सफर करने के लिए आपको कंबल और बेड रोल घर से ढोने की जरूरत नहीं होगी। इस आदेश का रेल यात्री बेसब्री से इंतजार कर रहे थे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!