दुर्घटनाओं में हरिद्वार के तीन लोगों की मौत कई घायल, एक बच्ची की भी दर्द नाक मौत

-हरिद्वार सहित उत्तराखंड में कई जगह दुर्घटनाओं में चार की मौत कई घायल

वाहन के दुर्घटनाग्रस्त होने से दो के लोगों की मौत, नौ लोग घायल

-सभी घायल व मृतक रुड़की क्षेत्र के रहने वाले हैं

दैनिक समाचार, टीम उत्तराखंड

विकासनगर। बड़कोट राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या एनएच 123 पर आज सुबह डामटा से नौगांव की तरफ स्थान रिखाऊ खड्ड के एक वाहन के दुर्घटनाग्रस्त होने से दो के लोगों की मौत हो गई है, जबकि नौ लोग घायल हुये हैं। वाहन में 11 लोग सवार थे। थानाध्यक्ष पुरोला अशोक चक्रवर्ती ने बताया कि उक्त स्थान पर डामटा चौकी पुलिस मौके पहुंची। बड़कोट एसडीआरएफ एवं नैनबाग व नौगांव से 108 सेवा मौके परपहुंची। घायलों को नौगांव व डामटा अस्पताल में भर्ती कराया गया। सभी घायल व मृतक रुड़की क्षेत्र के रहने वाले हैं। दुर्घटनाग्रस्त वाहन ट्रक यूके 07सीए-7244 है।

वाहन से टकराई नीलगाय, दुर्घटना में एक महिला की मौके पर ही मौत

हरिद्वार बहादराबाद थाना क्षेत्र में आज सुबह एक सड़क दुर्घटना में एक महिला की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में दो अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची बहादराबाद पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। जंगली जानवर आए दिन सड़क दुर्घटनाओं का सबब बन रहे है। पथरी क्षेत्र से एक परिवार जुगाड़ वाहन द्वारा पथरी से ज्वालापुर आ रहा था। अभी वे जर्स कंट्री के पास नया गांव इलाके में ही पहुंचे थे, तभी इनके वाहन से नीलगाय टकरा गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी की वाहन पलट गया और उसमें बैठे लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। वाहन में सवार सविता (28) की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बलवीर व भांगमती गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को तत्काल जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया, जबकि सविता के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

ट्यूशन जा रहे भाई बहन को वाहन ने मारी टक्कर मार, बहन की दर्द नाक मौत, भाई घायल 

लालकुआं। निकटवर्ती क्षेत्र बिंदुखत्ता के राजीवनगर प्रथम काररोड में पुरानाखत्ता क्षेत्र को जाने वाली सड़क पर साइकिल से ट्यूशन जा रहे भाई बहन को बेतरतीब वाहन ने टक्कर मार दी, परिणाम स्वरूप बालिका की एसटीएच चिकित्सालय में उपचार के दौरान दर्दनाक मौत हो गई। जबकि उसका बड़ा भाई जख्मी हैं। मिली जानकारी के अनुसार सुबह 9:30 बजे बिंदुखत्ता के राजीवनगर प्रथम निवासी भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल के जवान देवेंद्र सिंह बिष्ट की 6 वर्षीय बेटी चाहत बिष्ट (रिंकी) अपने बड़े भाई 11 वर्षीय दिव्यांशु के साथ साइकिल द्वारा ट्यूशन पढ़ने जा रही थी, तभी काररोड क्षेत्र से आ रहे तेज गति के डंपर ने साइकिल को टक्कर मार दी, जिससे उक्त बालिका रिंकी एवं उसका भाई दिव्यांशु उसकी चपेट में आ गये। जिन्हें आनन-फानन में क्षेत्रवासी तुरंत ही एसटीएच चिकित्सालय हल्द्वानी ले गए, जहां उपचार के दौरान बालिका ने दम तोड़ दिया है। जबकि दिव्यांशु का उपचार चल रहा है वह अब ठीक है। उक्त घटना से जहां परिवार में कोहराम मच गया है, वही क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। क्षेत्रवासियों ने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि गांव में बेतरतीब चल रहे डंपर एवं ट्रकों पर लगाम लगाई जाए। देवेंद्र सिंह बिष्ट वर्तमान में आईटीबीपी में अरुणाचल प्रदेश में सेवारत हैं, उनके ये ही दो बच्चे थे। विदित रहे कि कुछ समय पूर्व देवेंद्र बिष्ट पिथौरागढ़ में तैनात थे, वही इनके यह दोनों बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे है, वर्तमान में ऑनलाइन पेपर होने के चलते यह दोनों बच्चे बिंदुखत्ता में अपने घर के पास ही ट्यूशन पढ़ने जा रहे थे, तथा 1 माह पूर्व ही बच्चों को बिंदुखत्ता पहुंचाकर देवेंद्र अरुणाचल स्थित अपनी ड्यूटी को चले गए हैं। उनकी धर्मपत्नी अनीता बिष्ट लालकुआं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एएनएम के पद पर कार्यरत है। उक्त घटना से जहां परिवार में कोहराम मच गया है। वहीं क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ पड़ी है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!