तो क्या धामी के इस राजतिलक को शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है, देखिये ये खास रिपोर्ट

-पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के 12वें मुख्यमंत्री के रूप में ली शपथ

-मोदी, योगी, शाह, राजनाथ सहित कई वीआइपी बने धामी के शपथ ग्रहण समारोह के गवाह 

-धामी ने उत्तराखंड के 12वें मुख्यमंत्री के तौर पर ली शपथ, बोले यह दशक उत्तराखंड का होगा

-जो भी हमने संकल्प लिए हैं, उस पर आज से ही हमारी सरकार काम करना शुरू करेगी

वासुदेव राजपूत, दैनिक समाचार, देहरादून

राजधानी देहरादून के परेड ग्राउंड में आयोजित भव्य शपथ ग्रहण समारोह में बुधवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और मंत्रिमंडल सदस्यों ने पद और गोपनीयता की शपथ ली। राज्य के 11 सदस्यीय मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सहित नौ मंत्रियों को राज्यपाल गुरमीत सिंह ने शपथ ग्रहण करवाई। यह पहला मर्तबा है जब किसी राज्य में इतना भव्य व दिव्य शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया हो। इस शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित तमाम केंद्रीय मंत्रियों और अनेक राज्यों के मुख्यमंत्रियों की उपस्थिति रही हो तथा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे हो। धामी के इस राजतिलक में केंद्रीय सत्ता व संगठन की उपस्थिति को भाजपा के एक शक्ति प्रदर्शन के रूप में भी देखा जा रहा है। उत्तराखंड में यह पहली बार हुआ, जब किसी मुख्यमंत्री को लगातार दूसरा बार अवसर दिया गया है। वही मीडिया से बातचीत करते हुए सीएम धामी ने कहा कि यह दशक उत्तराखंड का दशक होगा। जो भी हमने संकल्प लिए हैं, उस पर आज से ही हमारी सरकार काम करना शुरू करेगी। हम कल कैबिनेट की पहली बैठक करेंगे। उसके जरिए हम बहुत सारी जानकारी देंगे

गणेश, चंदन, सतपाल, धन सिंह, सुबोध, प्रेमचंद, रेखा और सौरभ ने भी ली शपथ

देहरादून के परेड ग्राउंड में आज पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के 12वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। साथ ही आठ मंत्रियों ने भी शपथ ली। इनमें गणेश जोशी, चंदन रामदास, सतपाल महाराज, धन सिंह रावत, सुबोध उनियाल,प्रेमचंद अग्रवाल, रेखा आर्य, और सौरभ बहुगुणा ने शपथ ली। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई वीआइपी मौजूद रहे।

2017 में बीजेपी सरकार में कैबि‍नेट मंत्री रह चुके हैं सतपाल महाराज

सतपाल महाराज ने मंत्री पद की शपथ ली। सतपाल महाराज ने चौबट्टाखाल सीट से जीत दर्ज की है। वह 2017 में बीजेपी सरकार में कैबि‍नेट मंत्री रह चुके हैं। इससे पहले तक वह कांग्रेस में सक्र‍िय थे। सतपाल महाराज आध्यात्मिक गुरु भी हैं। महाराज केंद्र की देवेगौड़ा और गुजराल सरकार में राज्य मंत्री भी रह चुके हैं।

रेखा आर्य 2003 में पहली बार जिला पंचायत सदस्य बनीं
पूर्व महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य ने मंत्री पद की शपथ ली। रेखा आर्य सोमेश्‍वर से विधायक हैं। रेखा आर्य 2003 में पहली बार जिला पंचायत सदस्य बनीं। 2017 में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले रेखा आर्या बीजेपी में शामिल हो गईं और बीजेपी के टिकट पर विधानसभा पहुंचीं।

पूर्व मुख्‍यमंत्री विजय बहुगुणा के बेटे हैं सौरभ

सितारंगज विधायक सौरभ बहुगुणा ने मंत्री पद की शपथ ली। सौरभ बहुगुणा पूर्व मुख्‍यमंत्री विजय बहुगुणा के बेटे हैं। सौरभ पहली बार मंत्री बने हैं। इन्‍होंने 2017 में भी सितारंगज से चुनाव जीता था।

चंदनराम दास लगातार चार बार विधायक रह चुके हैं

बागेश्‍वर विधायक चंदनराम दास ने मंत्री पद की शपथ ली। वह पहली बार मंत्रिमंडल में शामिल हो रहे हैं। चंदनराम दास लगातार चार बार विधायक रह चुके हैं। वह अपने सरल स्‍वभाव के लिए जनता के बीच खासा प्रसिद्ध हैं।

प्रेमचंद अग्रवाल राज्य की चौथी विधानसभा के स्पीकर रहे

प्रेमचंद्र अग्रवाल ने संस्‍कृत में शपथ ली। भाजपा विधायक प्रेमचंद अग्रवाल राज्य की चौथी विधानसभा के स्पीकर थे। स्पीकर पद के चुनाव की नामांकन प्रक्रिया में एकमात्र नामांकन उन्होंने ही किया था। तत्‍कालीन प्रोटेम स्पीकर हरबंस कपूर ने सदन में उनके स्पीकर बनने की घोषणा की थी। पांचवीं विधानसभा के लिए हुए चुनावों में इन्‍होंने ऋषिकेश सीट से चुनाव लड़ा था।

सुबोध उनियाल उत्‍तराखंड सरकार में कृषि मंत्री रहे

सुबोध उनियाल ने मंत्री पद की शपथ ली। सुबोध उनियाल नरेंद्रनगर से विधायक हैं। इससे पहले वह उत्‍तराखंड सरकार में कृषि मंत्री रहे हैं। पहले वह कांग्रेस पार्टी में थे। 2017 में इन्‍होंने भाजपा ज्‍वाइन की थी।

उच्‍चशिक्षा मंत्री रहे धन सिंह रावत

पूर्व उच्‍चशिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने मंत्री पद की शपथ ली। 2017 में पौड़ी गढ़वाल की श्रीनगर सीट से धन सिंह रावत पहली बार विधायक बने थे। रावत अपने विनम्र स्वभाव के लिए जाने जाते हैं।

एक सैनिक के रूप में भारतीय सेना में रहे गणेश जोशी

गणेश जोशी ने मंत्री पद की शपथ ली। गणेश जोशी मूल रूप से पिथौरागढ़ जिले के रहने वाले हैं। इनका जन्‍म 1958 में मेरठ में हुआ था। मेरठ में उनके पिता स्वर्गीय श्याम दत्त जोशी भारतीय सेना के जवान के रूप में तैनात थे। गणेश जोशी 1976 से 1983 तक एक सैनिक के रूप में भारतीय सेना में रहे। वर्तमान में वे देहरादून में रहते हैं।

योगी जैसे ही मंच पर पहुंचे लगे बुल्डोजर बाबा जिन्दाबाद के नारे


पुष्कर सिंह धामी ने आज मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी कार्यक्रम में मौजूद रहे। अन्य प्रदेशों के मुख्यमंत्री ने समारोह में शिरकत करने पहुंचे। उनमें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का लोगों में खूब क्रेज दिखा। भाजपाइयों ने लगाये बुल्डोजर बाबा जिन्दाबाद के नारे। योगी जैसे ही मंच में आये उनके समर्थन में लोग नारे लगाने लगे। योगी ने भी लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन स्वीकार किया। उल्लेखनीय है कि योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड के रहने वाले हैं पौड़ी जिले के यमकेश्वर में उनका पैतृक गांव है। चुनावी रैलियों में लोगों ने उनको काफी पसंद किया। उनकी रैलियों में लोग भी बड़ी संख्या में पहुंचे।

Dainik Samachaar

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!