बाल बाल बच गए हरिद्वार में रहे पुलिस के ये बड़े अधिकारी, लेकिन हार नहीं मानी

-सीओ सिटी की सूझबुझ से पुलिस टीम ने पांच किलोमीटर दूर तक पीछा कर आरोपी को दबोचा
-कार से भाग रहे सूदखोर ने सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह को कुचलने का प्रयास किया
-आरोपी सूदखोर के खिलाफ सीओ सिटी को कुचलने के मामले में भी केस दर्ज किया जाएगा

सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह

वासुदेव राजपूत

दैनिक समाचार, हरिद्वार/रुद्रपुर, कार से भाग रहे सूदखोर ने सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह को कुचलने का प्रयास किया। वारदात में सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह बाल बाल बच गए। बाद में सीओ सिटी की सूझबुझ से पुलिस टीम ने करीब पांच किलोमीटर दूर तक पीछा कर उसे दबोच लिया। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक आरोपी सूदखोर के खिलाफ सीओ सिटी को कुचलने के मामले में भी केस दर्ज किया जाएगा।

पुलिस टीम वीडियो वायरल होने के बाद आरोपियों को गई थी पकड़ने

उत्तराखंड पुलिस के सीओ पर अपराधियों ने कार चढ़ाने की हिमाकत कर डाली। पुलिस की टीम एक वीडियो वायरल होने के बाद आरोपियों को पकड़ने गई थी। इस वीडियो में कुछ आरोपी एक युवक के कपड़े उतारने के बाद उससे नागिन डांस करा रहे थे।

ब्याज पर लिए पैसे वापस न करने पर निर्वस्त्र कर नागिन डांस कराया था 

ट्रांजिट कैंप निवासी युवक ने चिराग अग्रवाल सहित पांच लोगों पर ब्याज के रुपये की वसूली के नाम पर शारीरिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था। आरोप था कि ब्याज पर लिए पैसे वापस न करने पर युवक को निर्वस्त्र कर नागिन डांस कराया गया। जिसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। वीडियो में भी युवक निर्वस्त्र अवस्था में रोते हुए डांस करता दिख रहा है।

पुलिस को देख चिराग अग्रवाल कार से भागने लगा

व्यापारी अभिषेक मिश्रा और रफीक की शिकायत के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी सूदखोर चिराग अग्रवाल, घनश्याम बाटला, गोविंद ढाली और देवराय मंडल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। इसके बाद पुलिस ने गोविंद मंडल को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह, कोतवाल विक्रम राठौर, थानाध्यक्ष ट्रांजिट कैंप सुंदरम शर्मा, एसएसआई सतीश चंद्र कापड़ी के नेतृत्व में पुलिस की अलग अलग टीम सूदखेर चिराग अग्रवाल की गिरफ्तारी को उसके घर के साथ ही कार्यालय में पहुंच गई। जहां पुलिस को देख चिराग अग्रवाल कार से भागने लगा। इस पर पुलिस कर्मियों ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया।

सीओ के आदेश पर यातायात पुलिस कर्मी ने रोक लिया ट्रैफिक

सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह समय रहते सुझबूझ से काम न लेते तो सूदखोर चिराग अग्रवाल पुलिस के हाथ नहीं आता। सीओ ने बेतरतीब ढंग से कार से भाग रहे सूदखोर को रोकने के लिए तीनपानी में तैनात कांस्टेबल को ट्रैफिक रोक देने को कहा। ताकि वह जाम में फंस जाए। सीओ के आदेश पर यातायात पुलिस कर्मी ने ट्रैफिक रोक लिया। जिससे दोनों और वाहनों की लंबी कतार लग गई। इसी जाम में सूदखोर भी फंस गया। पुलिस टीम ने उसे भागकर दबोच लिया। बता दें कि बाद में आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गए और पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने में कामयाब हुई। 

जांच करने पर 14 और लोगों के नग्न, अर्द्धनग्न अवस्था में पिटाई के वीडियो मिले हैं

सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह ने बताया कि आरोपी ने भागने के चलते यह कृत्य किया है। हालांकि उन्हें चोट नहीं आई है। उन्होंने बताया की बीती शाम नाकाबंदी करने के बाद आरोपी भागे तो हम ने कार से पीछा किया। कार सवार आरोपियों ने मुझे कुचलने का प्रयास किया है। गनीमत रही कि हम पीछे हट गए और बड़ी घटना होने से बच गई। उन्होंने बताया की गिरफ्तार गोविंद ढाली के मोबाइल पर व्यापारी अभिषेक और रफीक की वीडियो मिली। इसके अलावा मोबाइल की जांच करने पर 14 और लोगों के नग्न, अर्द्धनग्न अवस्था में पिटाई के वीडियो मिले हैं। बताया कि इस वीडियो की जांच की जा रही है।

Dainik Samachaar

Leave a Comment

error: Content is protected !!